बच्चों को किस आयु से तकिया (Pillow) देना चाहिए, ताकि उन्हें सही समय की समझ हो सके?

बच्चों को किस आयु से तकिया (Pillow) देना चाहिए

बच्चों को किस आयु से तकिया (Pillow) देना चाहिए, ताकि उन्हें सही समय की समझ हो सके?

बच्चों को किस आयु से तकिया (Pillow) देना चाहिए:“बच्चे को बड़ा करना कोय आसान बात नहीं है। बच्चे को हर छोटी-बड़ी वस्तुओं पर सावधानी से नजर रखनी चाहिए। बच्चे को पहली बार कब बोतल देनी है, उसे किस प्रकार के खिलौने कब देने हैं, ऐसी छोटी-बड़ी बातों का ख्याल रखना चाहिए। ठीक उसी तरह से बच्चे को पहली बार Pillow का उपयोग किस आयु में करना चाहिए, उसके लिए कुछ नियम होते हैं।”

“क्या बच्चे को Pillow देना आवश्यक है?

बहुत से माता-पिता सोचते हैं कि क्या वास्तव में बच्चे के लिए Pillow आवश्यक है या फिर वह बिना Pillow के भी रह सकता है। Pillow सिर्फ आराम के अलावा सम्पूर्ण स्वास्थ्य पर भी असर डाल सकता है।

बच्चे को किस उम्र में Pillow देना चाहिए?

हर बच्चा अलग होता है इसलिए हर बच्चे की जरूरत भी अलग होती है। जैसा कि कुछ एक्सपर्ट्स मानते हैं कि अगर बच्चा दो से तीन साल का हो तो उसे Pillow  देना चाहिए। इस उम्र तक के बच्चे की रीढ़ की हड्डी और गर्दन तकिये  के सुरक्षित उपयोग के लिए पूरी तरह से विकसित हो चुकी होती है और बच्चे को तकिये  से कोई असहजता नहीं होती।”

 

बच्चों को किस आयु से तकिया (Pillow) देना चाहिए

यह कैसे समझें कि बच्चे को तकिया चाहिए या नहीं ।

यदि आपका बेबी पूरी रात पलटता रहता है, तो संभव है कि उसे सोने के लिए आरामदायक स्थिति नहीं मिल रही हो इस लिए पलटता रहता है । एक तकिया (Pillow) उसे बेहतर नींद लेने में मदद कर सकता है। यदि आपका बच्चा सोते समय अपने सिर को एक तरफ झुकाता है, तो यह इस बात का संकेत हो सकता है कि वह अपनी गर्दन के लिए आरामदायक कोण खोजने की कोशिश कर रहा है। तकिया (Pillow) शिशु को अच्छी सहायता प्रदान कर सकता है। यदि आपका बच्चा जाग रहा  है और बेचैनी या गर्दन में दर्द की शिकायत करता है, तो उसे तकिया (Pillow) देने के बारे में सोचने का समय आ गया है।

बच्चों के लिए तकिए (Pillow) के फायदे

तकिया आपके बच्चे के सिर और गर्दन को तकिया (Pillow)सपोर्ट प्रदान करता है। जिससे अच्छी आरामदायक नींद आती है और तकिये का उपयोग आपके बच्चे की रीढ़ को प्राकृतिक रूप से भी फिट रखने में मदद कर सकता है। जिससे बच्चा  सुबह तरोताजा होकर उठता है। जब बच्चा पर्याप्त आराम से सोता है, तो वह  आरामदायक नींद का आनंद ले सकता है।

मुलायम तकिया (Pillow) सुरक्षा और आराम की भावना दे सकता है, जिससे सोने का अनुभव अधिक आरामदायक हो जाता है। अगर आपका बच्चा घोड़े से बिस्तर पर सोने के लिए मजबूर हो जाता है, तो तकिये से यह परिवर्तन उसके लिए थोड़ा आसान हो जाता है।

 

FAQ

 

मुझे बच्चे को तकिया कब देना चाहिए?

बच्चा तकिये का उपयोग कब कर सकता है? छोटे बच्चों द्वारा सुरक्षित रूप से तकिये का उपयोग करने की उम्र अलग-अलग होती है। हालाँकि, अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स 2 साल से कम उम्र के बच्चे को तकिये का इस्तेमाल करने की सलाह नहीं देता है। जब आपका बच्चा अपने पालने से बिस्तर पर जाता है तो वह सुरक्षित रूप से तकिए और अन्य बिस्तर का उपयोग कर सकता है।

अगर बच्चा बिना तकिए के सोता है तो क्या यह ठीक है या नहीं ?

जब तक वे एक वर्ष के नहीं हो जाते, आपके बच्चे को एक सपाट सतह पर, केवल एक फिटेड चादर से ढककर सोना चाहिए। इसका मतलब है कोई तकिया, कंबल या अन्य बिस्तर नहीं। हालाँकि, विशेषज्ञ इस बात से सहमत हैं कि उनके पहले जन्मदिन के बाद भी, उनके पालने में शिशु तकिया लगाने का कोई अनिवार्य कारण नहीं है।

बच्चों के लिए कौन सा तकिया (Pillow) सबसे अच्छा है?

वे ऑर्गेनिक कॉटन जैसे मुलायम कपड़े से बने होने चाहिए। जो मशीन से धोने योग्य होते हैं, उनका अतिरिक्त लाभ होता है क्योंकि उन्हें आसानी से साफ किया जा सकता है। मदरकेयर के तकिए ये सभी सुविधाएँ प्रदान करते हैं, और यही कारण है कि वे इस समय उपलब्ध सर्वोत्तम शिशु तकियों में से कुछ हैं।

बच्चा नींद में क्यों हंसता है?

बच्चे किसी बाहरी स्टिमुलेशन के कारण नहीं मुस्कुराते हैं, वे किसी  दिमागी मूवमेंट की वजह से नींद में हंसते रहते  हैं. रैपिड आई मूवमेंट (RIM) की वजह से सपने देखते हैं और अपने सपने की प्रतिकिया में बच्चे मुस्कुराते रहते है ।

2 thoughts on “बच्चों को किस आयु से तकिया (Pillow) देना चाहिए, ताकि उन्हें सही समय की समझ हो सके?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *